Td

visualisation क्या है-Powerful Visualization कैसे करें

  visualisation क्या है-Powerful Visualization कैसे करें


       
visualisation क्या है-Powerful Visualization कैसे करें
visualisation क्या है-Powerful Visualization कैसे करें


जब किसी चीज़ का इमेजिंग तथा कल्पना करते है वह visualise है इस रीजन में किसी चीज का छवि वास्तविक में न होकर दिमागी इमेज होता है जिसका वास्तविक में कोई भी आयम नहीं होता है इमेजिंग टेक्निक दो प्रकार का होता है एक वास्तविकता इमेजिंग और अवास्तविकता इमेजिंग



 

                   वास्तविकता इमेजिंग

यहां वहां इमेजिन है जो हमरे साथ हो रहे होते है या फिर हो चुका होता है जैसे वर्तमान में जो कुछ कर रहे है उसे करते करते इमेजिन करते हैं यहां वास्तविकता से संबंध रखता है यानी यहां वास्तविक विजुलाइज होता है या किसी जगह पर घूमने जा रहे हैं तथा वहां पहुंच चुके हैं और भूतकाल विधि में कैसे उस जगह पर पहुंचे रास्ते में क्या-क्या देखें इस तरह से विजुलाइज वास्तविकता इमेजिन के अंतर्गत आता है 




                  अवास्तविकता इमेजिंग

जिस बारे में इमेजिन कर रहे है जो अभी आपके पास नहीं है यहां अवास्तविकता इमेजिन में आता है जैसे आप उस मुकाम में नहीं पहुंचे होते हैं और इमेजिन द्वारा उस मुकाम में पहुंच जाने का फिल करते हैं तथा सपना देखना भविष्य के बारे में कल्पना करना यहां सब अवास्तविकता इमेजिन में आता है



                 विजुलाइजेशन क्या है

विजुलाइजेशन एक प्रकार का सपना है जोकि जागृत अवस्था में आता है दिमाग में एक के बाद एक इमेजिंग चलता ही रहता है जिसे हम विजुलाइजेशन बोलते हैं इस द्वारा अपने बातों को  subconscious mind तक पहुंचाते हैं और subconscious mind उस बात को ग्रहण कर लेता है तो आपके चेतन मन को वही कमान देता है और आपके साथ वहां होने लगता है यही विजुलाइजेशन का पावर है

विजुलाइज लॉ ऑफ अट्रैक्शन के ही सारणी में आता है आकर्षण का सिद्धांत में विजुलाइज काफ़ी योगदान रहता है तो बात आता है इमेजिन कैसे करते इस मोड़ में आपका पूरा एनर्जी आपके माइंड में होता है आप जैसे ही इमेजिन करते है ये चीज मै पा चुका हूं तथा ऐसे फिलिंग करते जैसे उस पाकर करते इसमें यहां होता है कि आप उस चीज के तरफ और भी आकर्षित होते हैं और इसी इमेजिन को सच में करने या पाने के लिए दिमाग़ उस चीज का एक्शन लेता है 





और इसके विपरित इमेजिन करते है कि जिस भी चीज का आपका चाहत होता है और आप इस तरह से विजुलाइज करते है जैसे आपको उसका ज़रूरत नहीं है या आप वो कर नहीं सकते इस रीजन में आपका कदम आगे के बजाए पीछे चलता है और आप वहीं जगह पर आ जाते हो जहां से अपने शुरू किया था इसलिए इमेजिन का होना भी बहुत जरूरी होता है क्योंकि इमेजिन से ही वास्तविकता में पहुंचते है जैसे कोई घर बनाने से पहले वहां किसी का इमेजिन होता है और उस इमेजिन को वह रियल म बदलने के लिए वहां एक्शन लेता है और उसका एक्शन इमेजिन को रियल्टी में बदल देता है
          
        


                  Visualise कैसे करें


यहां अधिकतम सुबह और सोने से पहले अधिक काम करता है लेकिन इसे कोई भी समय पर कर सकतेे हो
विजुलाइज में आपको विचार के साथ एक वीडियो इमेज बनाना होता है और उस वीडियो को आप अपने दिमाग में जितना क्लियर बना सकते हो विजुलाइजेशन उतना ही पावरफुल होगा 


              कुछ इस प्रकार visualise

                   जैसे मैं सोच रहा हूं

आफार्मेशन में आपको अपने बात अपने दिमाग तक पहुंचाना होता है और केवल शब्द का उच्चारण करना होता है लेकिन visualise इसमें आपको उस शब्द को एक इमेज वीडियो बनाकर उसको अपने दिमाग पर चलाना होता है और साथ ही साथ उसे फिल करना भी होता है जैसे आप उसे पाकर करते और वैसा ही महसूस करना होता है जैसे वह चीज आपके पास अभी है

                           

               

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां